G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye

G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye

G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye – तो अगर आप भी जी-20 सम्मेलन शिखर के बारे में जानना चाहते है, तो आप बिलकुल सही जगह पर आए है, क्यों कि हम आज बात करेंगे जी-20 सम्मेलन शिखर के बारे में। आज हम जानेगे कि जी-20 सम्मेलन शिखर क्या होता है? जी-20 सम्मेलन शिखर के क्या कार्य होते है? और जी-20 सम्मेलन शिखर की ताकत क्या होती है? अथवा!

G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye
G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye

जी-20 क्या है | G-20 Kya Hai:

जी-20 एक अनौपचारिक समूह है जिसमें 1999 में यूरोपियन यूनियन और 19 दूसरे देश शामिल हैं। यह एक वार्षिक शिखर सम्मेलन में नेताओं को एकत्र करके वैश्विक अर्थव्यवस्था की चर्चा करता है। G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye

जी-20 का उद्देश्य | G-20 Ka Uddesy:

जी-20 का गठन वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों के बीच हुआ था, लेकिन बाद में यह नेताओं के संगठन में बदल गया। इसका मुख्य उद्देश्य वैश्विक अर्थव्यवस्था में सहायता करना है। G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye

जी-20 में शामिल देश | G-20 Me Shamil Desh:

इस समूह में 20 देश हैं, जैसे कि अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, और संयुक्त राज्य अमेरिका।

जी-20 के कार्य | G-20 Ke Kary:

जी-20 में वित्त ट्रैक और शेरपा ट्रैक होते हैं, जो नेताओं और उनके प्रतिष्ठानुसार कार्य करते हैं। इसका मुख्य उद्देश्य अर्थव्यवस्था में सहायता करना है और इसमें शामिल देशों की कुल जीडीपी का 80% हिस्सा है। G20 का मतलब क्या होता है: G20 Kya Hai Bataiye

भारत का जी-20 में वर्चस्व | Bharat Ka G-20 Me Varchasv:

  • भारत ने ब्रिटेन को पीछे छोड़कर पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना ली है।
  • भारत ने यूएन सुरक्षा परिषद में अस्थायी सदस्य बना है और उसे रूस और अमेरिका का समर्थन मिला है।
  • भारत के पास जी-20 और SCO की अध्यक्षता है।

अगली अध्यक्षता किसके पास है | Agli Adhykshata Kiske Pass Hai?

जी-20 का सचिवालय नहीं होता, इसकी अध्यक्षता ट्रोइका द्वारा समर्थित होती है। भारत के बाद आने वाले अध्यक्षता के दौरान ट्रोइका में इंडोनेशिया (पूर्व अध्यक्ष), भारत (वर्तमान अध्यक्ष), और ब्राजील (2024 में अध्यक्ष) शामिल होंगे।

Also Read:

FAQ:

G20 2023 का उद्देश्य क्या है?

G20 के इस शिखर सम्मेलन ने भारत की सराहनीय भूमिका को बढ़ावा दिया है, जिससे दुनिया को यहां भारत की महत्वपूर्ण भूमिका का अहसास हुआ। भारत का मानना ​​है कि महामारी के बाद विश्व व्यवस्था को पूरी तरह से बदल देना चाहिए।

भारत में कितने G20 बैठकें हैं?

जी-20 के माध्यम से, भारत ने दुनियाभर में अपनी ताकत को प्रदर्शित किया है। देशभर में 10 महीने में 58 शहरों में 200 से ज्यादा बैठकें हुईं, जिसमें विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई और सुझाव और प्रस्ताव लिए गए। भारत ने नवंबर 2022 में इंडोनेशिया के बाली शहर में जी-20 की प्रेसीडेंसी को संभाला है।

G20 का मुख्यालय कहाँ है?

यह समूह 1995 में स्थापित हुआ और इसका मुख्यालय स्विटजरलैंड के जेनेवा शहर में है।

G20 में कुल कितने देश हैं?

G20 के सदस्यों की सूची: इस समूह में 19 देश और यूरोपीय यूनियन शामिल हैं, जिसमें भारत भी है।

G20 का आदर्श वाक्य क्या है?

इनमें सामरिक, आर्थिक और ढांचागत विषय शामिल हैं। भारत ने 1 दिसंबर से G20 की अध्यक्षता संभाली है। इस मार्ग में, वह “वसुधैव कुटुंबकम” (समूचा विश्व एक परिवार है) के मौलिक दृष्टिकोण के साथ आगे बढ़ाएगा। “एक धरती, एक परिवार, एक भविष्य” का आदर्श वाक्य इसे बेहतरीन रूप से दिखाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *